UPSC Result 2018:Success Story Of Toppers

UPSC Result 2018:Toppers Story Of Success



Marks of toppers out check below…..

आज सभी के जुबान पर कनिष्क कटारिया का नाम है। और हो भी क्यू न। यूपीएससी परीक्षा में 759 उम्मीदवार सफल घोषित हुए जिनमे इनका नाम सबसे ऊपर रहा। यूपीएससी परीक्षा में 759 उम्मीदवार सफल घोषित किए गए। इनमें 577 पुरुष और 182 महिलाएं हैं। एससी वर्ग से आने वाले कटारिया ने पहला स्थान हासिल किया है। गणित उनका वैकल्पिक विषय था।
आज यहाँ आपको कटारिया के साथ साथ एक और ऐसे सक्श के बारे में बताया जायेगा जिन्होंने भी अपने कड़े परिश्रम के द्वारा 5वा स्थान पाया है। और आपको की ये महिलाओ में प्रथम स्थान पर हैं जिनका नाम सृष्टि देशमुख है।

पहले एक नजर परिणाम पर डालते हैं।


इन परिणाम के आधार पर आईएएस, आईएफएस, आईपीएस और अन्य केंद्रीय सेवाओं (ग्रुप-ए और ग्रुप-बी) के लिए चयन किया जाता है।कटारिया ने पहला स्थान हासिल किया, महिलाओं में भोपाल की सृष्टि जयंत देशमुख ने पहला स्थान हासिल किया है। हालांकि संपूर्ण सूची में उनका पांचवां नंबर है।

upsc topper marks
संपूर्ण सूची में राजस्थान के ही अक्षत जैन दूसरे और उत्तर प्रदेश के जुनैद अहमद तीसरे स्थान पर हैं। इसके अलावा शीर्ष-10 में श्रवण कुमत, शुभम गुप्ता, कर्नाटी वरुणरेड्डी, वैशाली सिंह, गुंजन द्विवेदी, तन्मय वशिष्ठ शर्मा के नाम हैं। 759 सफल उम्मीदवारों में सामान्य वर्ग के 361, ओबीसी के 209, एससी के 128 और एसटी के 61 हैं। शीर्ष 25 स्थानों पर 15 पुरुष और 10 महिलाओं ने कब्जा किया है।

तीन चरणों में हुई परीक्षा

सफल उम्मीदवारों को तीन चरण की परीक्षा, प्री, मेंस के साथ निजी साक्षात्कार से गुजरना पड़ा। मेंस में कामयाब उम्मीदवारों को निजी साक्षात्कार की परीक्षा चार फरवरी 2019 से शुरू हुई थी।

शीर्ष 10 में ये रहे शामिल

1. कनिष्क कटारिया ( Kanishak Kataria ) marks.1121
2. अक्षत जैन ( Akshat Jain )marks.1080
3. जुनैद अहमद ( Junaid Ahmad )marks.1077
4. श्रेयांस कुमत ( Shreyans Kumat )marks.1071
5. सृष्टि जयंत देशमुख ( Srushti Jayant Deshmukh )marks.1068
6. शुभम गुप्ता ( Shubham Gupta )marks.1067
7. करनति वरुनरेड्डी ( Karnati Varunreddy )marks.1067
8. वैशाली सिंह ( Vaishali Singh )marks.1066
9. गुंजन द्विवेदी ( Gunjan Dwivedi )marks.1064
10. तन्मय वशिष्ठ शर्मा ( Tanmay Vashishtha Sharma )marks.1064

पहले बात करते हैं हमारे टोपर कनिष्क कटारिया की।

आईआईटी बॉम्बे से बीटेक पास राजस्थान के कनिष्क कटारिया ने सिविल सेवा परीक्षा-2018 में शीर्ष स्थान हासिल किया है। संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने शुक्रवार को परीक्षा परिणाम घोषित किए।
अपनी उपलब्धि पर बोलते हुए कनिष्क ने कहा- यह बहुत ही आश्चर्यजनक क्षण है। मैंने पहली रैंक पाने की कभी उम्मीद नहीं की थी। मैं अपने माता-पिता, बहन और मेरी प्रेमिका को मदद और नैतिक समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं। लोग मुझसे एक अच्छे प्रशासक बनने की उम्मीद करेंगे और यही मेरा इरादा है।


वहीं महिलाओं में शीर्ष स्थान पर रहने वाली सृष्टि की बात करें।

महिलाओं में शीर्ष स्थान पर रहने वाली सृष्टि ने भोपाल के राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय से केमिकल इंजीनियरिंग में BA की हुई है।

सृष्टि देशमुख की सफलता की कहानी, उन्हीं की जुबानी-
मेरे दिमाग में आईएएस बनने की धुन इस कदर हावी थी कि मैंने कॉलेज के दौरान कैंपस प्लेसमेंट में हिस्सा नहीं लिया, न सीवी तैयार किया। किसी कंपनी को एप्रोच नहीं किया, क्योंकि मन में ठान रखा था प्लेसमेंट नहीं चाहिए। और मैं तैयारी करती चली गई, सफल हुई। जब आप तैयारी शुरू करते हैं तो कई आंकड़े आपके सामने आते हैं। मैंने टेस्ट सीरीज में पढ़ा था कि मप्र में 15 से 30 हजार स्कूल ऐसे हैं जहां सभी बच्चों के लिए सिर्फ एक टीचर है। यह बात मेरे दिमाग में घर कर गई। मैंने सोचा… मैं इस स्थिति को बदलने के लिए क्या कर सकती हूं। यहीं से मोटिवेशन मिला। इंजीनियरिंग चुना ताकि बैकअप तैयार रहे।


उनके तैयारी का तरीका-
परीक्षा के लिए बहुत सब्जेक्ट होते हैं, अलग-अलग किताबें पढ़नी होती हैं। लेकिन मैंने हमेशा यूपीएससी सिलेबस में दिए विषयों के आधार पर तैयारी की। पिछले वर्षों के प्रश्न पत्र पढ़ती रही, ताकि पता चले कि किस तरह के सवाल पूछे जाते हैं। इन सबसे समय पर जवाब लिखने का अच्छा अभ्यास भी हुआ। इस परीक्षा में केमिस्ट्री होती है, केमिकल इंजीनियरिंग नहीं, इसलिए मैंने सोश्योलॉजी को एक विषय के तौर पर चुना।

हमें उम्मीद है की आपको यह सेक्शन अच्छा लगा होगा।

CHECK UPSC 2018 RESULT HERE

List Of Famous Indian Books And Authors-PDF Download



Leave a Reply